निर्मला सीतारामन ने राज्य के व्यवसाइयों के साथ चैम्बर प्रांगण में की बैठक

पटना। मंगलवार संध्या में बिहार चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज प्रांगण में निर्मला सीतारामन वित्त एवं कॉर्पोरेट अफेयर्स मंत्री राज्य के उद्यमियों एवं व्यवसाइयों से मिलीं।

चैम्बर अध्यक्ष सुभाष कुमार पटवारी ने मुख्य अतिथि एवं गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि आपको बता दूँ कि वर्तमान में वित्त एवं कॉरपोरेट कार्य मंत्रालय जैसे महत्वपूर्ण पदभार को सफलता पूर्वक निर्वहन कर रही हैं एवं पूर्व में आपने भारत के रक्षा मंत्रालय, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के साथ-साथ पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता का भी दायित्व संभाला है। मैडम अर्थशास्त्री के साथ-साथ एक कुशल राजनीतिज्ञ एवं सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं। राष्ट्रीय महिला आयोग के सदस्य के रूप अपनी सेवाएं भी देश को प्रदान की है। यह काफी प्रसन्नता की बात है कि मैंडम निर्मला सीतारमन जी ने 1 फरवरी 2024 को लगातार छठा बजट पेश किया है, यह एक बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने आगे कहा कि आज के अवसर पर चैम्बर की ओर से वित्त मंत्री को राज्य के आर्थिक विकास से सम्बन्धित एक विस्तृत ज्ञापन दिया गया है जिसमे राज्य के औद्योगिक विकास पर बल दिया गया है।

इस अवसर पर चैम्बर के पूर्व अध्यक्ष पी० के० अग्रवाल ने चैम्बर की ओर से वित्त मंत्री को ज्ञापन समर्पित किया जिसमें कहा कि राष्ट्रीयकृत बैंक राज्य में ऋण देने में काफी उदासीन भावना रखते हैं क्योंकि अधिकतर बैंक के वरीय अधिकारी राज्य के बाहर से आते हैं जिनका सोच नकारात्मक होता है इसी कारण राज्य में सीडी रेसिओ राष्ट्रीय औसत से काफी कम है। इस नकारात्मक दृष्टिकोण को बदलने की आवश्यकता है। सरकार को बैंकों पर दबाव बढ़ाकर राज्य में ऋण के प्रवाह को बढ़ाना चाहिए और असहयोगात्मक रवैया अपनाने वाले बैंकों के कार्यों का मूल्यांकन होना चाहिए। कम-से-कम एक पब्लिक सेक्टर बैंक का मुख्यालय बिहार में स्थापित कराया जाना चाहिए। साथ ही बैंकों के निदेशक मंडल में बिहार के उद्योग एवं व्यापार के प्रतिनिधि को भी रखा जाना चाहिए जिससे कि राज्य का प्रतिनिधित्व हो सके। बिहार में औद्योगिकरण को बढ़ावा देने के लिए विशेष प्रोत्साहन का प्रावधान किया जाना चाहिए।
इस अवसर पर निर्मला सीतारामन, वित्त एवं कॉर्पोरेट अफेयर्स मंत्री ने कहा कि बिहार में औद्योगीकरण के लिए स्थानीय उद्यमियों को आगे आना होगा। यहाँ पर काफी संभावनाएं है। इतिहास में कई क्षेत्रों में बिहार देश का नेतृत्व करता था। रक्षा एवं फार्मास्यूटीकल सेक्टर में काफी सम्भावना है।

कार्यक्रम में चैम्बर की ओर से उपाध्यक्ष आशीष शंकर एवं प्रदीप चौरसिया, महामंत्री पशुपति नाथ पाण्डेय, पूर्व उपाध्यक्ष एन० के० ठाकुर एवं मुकेश कुमार जैन एवं गणेश कुमार खेतड़ीवाल, कार्यकारणी सदस्य आशीष प्रसाद, अजय गुप्ता, सुनील सराफ, सावल राम ड्रोलिया, शशि गोयल, राकेश कुमार, आशीष प्रसाद, अशोक कुमार, पवन भगत एवं सम्मानित सदस्य सम्मिलित हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *